मैं कैसे सुनिश्चित हो सकता हूँ कि बाइबल वास्तव में परमेश्वर का वचन है?

यीशु ने पुराने नियम को पवित्रशास्त्र के रूप में उद्धृत किया और अक्सर इसमें से टिप्पणी की। और हमें कहा गया है कि, “सम्पूर्ण पवित्रशास्त्र परमेश्वर की प्रेरणा से रचा गया है और उपदेश, और समझाने, और सुधारने, और धार्मिकता की शिक्षा के लिए लाभदायक है, ताकि परमेश्वर का जन सिद्ध बने, और हर एक भले काम के लिये तत्पर हो जाये (2 तीमुथियुस 3:16-17, बाइबल का बी. एस. आई अनुवाद)।

हमारे लिए बाइबल परमेश्वर का वचन है के और अधिक प्रमाण के लिए, कृपया इस लेख को देखें, आप बाइबल पर विश्वास क्यों कर सकते हैं ? बाइबल की प्रामाणिकता के लिए यह ऐतिहासिक और पुरातत्वविज्ञानी तर्कों को प्रस्तुत करता है और सन्देहवादियों के प्रश्न के उत्तरों को देता है।